नेताओं का षट् राग

झांसी में रह रहे वरिष्ठ पत्रकार एवं शिक्षक उमेश शुक्ल द्वारा लिखित कविता नेताओं का षट् राग वर्तमान राजनीतिक हालात की सटीक स्थिति बयां करती है। कविता यह भी बताती है कि देश की जनता क्यों इतना बेहाल है।

समय चक्र

झांसी में रह रहे वरिष्ठ पत्रकार एवं शिक्षक उमेश शुक्ल जी द्वारा लिखित यह कविता समय चक्र की महत्ता बता रही है। अनुरोध है कि आप सभी यह कविता पढ़ें और इसका मर्म समझें। साथ ही कमेंट बॉक्स में आपकी प्रतिक्रिया भी अपेक्षित है। हिंदी न्यूज पोर्टल senani.in की ओर से उमेश शुक्ल जी का आभार।