समुद्र में और बढ़ेगी भारत की ताकत, नौसेना को मिली चौथी स्कॉर्पीन पनडुब्बी ‘वेला’

भारतीय नौसेना को परियोजना-75 की चौथी पनडुब्बी वेला मंगलवार को सौंपी गई। परियोजना-75 के तहत कुल छह स्कॉर्पीन पनडुब्बियों का निर्माण होना है। इन पनडुब्बियों का निर्माण फ्रांस के मेसर्स नेवल ग्रुप के सहयोग से मुंबई स्थित मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड (एमडीएल) में किया जा रहा है। 06 मई, 2019 को पनडुब्बी ‘वेला’ का जलावतरण किया गया था।

स्वर्ण जयंती फेलोशिप के लिए 17 युवा वैज्ञानिक चयनित

देश के अलग-अलग वैज्ञानिक संस्थानों के 17 वैज्ञानिकों को शोध संबंधी उनके नवोन्मेषी विचारों और विभिन्न विषयों में अनुसंधान एवं विकास को प्रभावी बनाने के लिए स्वर्ण जयंती फेलोशिप प्रदान की गई है।स्वर्णजयंती फेलोशिप योजना के तहत युवा वैज्ञानिकों को विज्ञान व प्रौद्योगिकी में मूलभूत अनुसंधान के लिए विशेष सहायता व संरक्षण दिया जाता है।

लखनऊ के इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग टेक्नोलॉजी को यूजीसी ने पांच साल के लिए दी शैक्षिक स्वयत्तता

उत्तर प्रदेश के प्रमुख सरकारी इंजीनियरिंग संस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (आईईटी), लखनऊ को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा पांच वर्षों के लिए शैक्षिक स्वायत्तता दी गई है। यूजीसी द्वारा सोमवार को इस संबंध में पत्र भी जारी कर दिया गया है। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) से संबद्ध संस्थान आईईटी की शैक्षिक स्वायत्तता कुछ कारणों से पिछले दो वर्षों से स्थगित चल रही थी।

आईआईटी दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन तकनीक से जुड़ी तीन नई प्रयोगशालाएं शुरू

जलवायु परिवर्तन और प्रदूषण के बढ़ते दबाव के चलते इलेक्ट्रिक वाहन वर्तमान युग की एक अनिवार्य आवश्यकता बनकर उभरे हैं। देश में इलेक्ट्रिक वाहनों के बढ़ते उपयोग को देखते हुए चार्जिंग स्टेशनों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ इलेक्ट्रिक वाहन प्रौद्योगिकी से संबंधित शोध एवं विकास पर भी जोर दिया जा रहा है।

विधानसभा चुनाव में राजनीतिक दलों को अपनी ताकत का अहसास कराए वैश्य समाज : सत्य प्रकाश गुलहरे

उत्तर प्रदेश वैश्य-व्यापारी महासभा के अध्यक्ष सत्य प्रकाश गुलहरे ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में कोई भी राजनीतिक दल वैश्य समाज की उपेक्षा नहीं कर सकेगा। समाज में 16 से 21 प्रतिशत तक हिस्सेदारी रखने वाले वैश्य समाज की सभी राजनीतिक दलों ने अभी तक उपेक्षा की है। अब समय आ गया है कि वैश्य समाज एकजुटता प्रदर्शित करते हुए अपनी शक्ति का प्रदर्शन करे और राजनीतिक दलों को एहसास कराए कि कोई भी सरकार बिना हमारी भागीदारी के नहीं बन सकती।

1 2 3 45