हथियारों के निर्माण में भारत लगाएगा और ऊंची छलांग, इस फैसले से बदल जाएगी पूरी तस्वीर

हथियारों के निर्माण में भारत तेजी से आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है। ऐसे में इस क्षेत्र में विशेषज्ञों की मांग लगातार बढ़ रही है। इसको देखते हुए रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ने रक्षा (डिफेंस) टेक्नोलॉजी में एक नियमित मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी (एमटेक) कार्यक्रम (course) शुरू किया है।

भारत के वैज्ञानिकों ने बना डाली 5जी क्षमता वाली स्वदेशी स्मार्टफोन चिप

डिजिटल युग में स्मार्टफोन के बिना रोजमर्रा के जीवन की कल्पना कठिन है। आज हमारे दैनिक जीवन का अहम हिस्सा बन चुके स्मार्टफोन का महत्वपूर्ण भाग उसमें लगने वाली चिप को माना जाता है। तकनीकी शब्दावली में इसे एसओसी यानी सिस्टम ऑन चिप कहा जाता है। किसी भी स्मार्टफोन की क्षमताएं काफी कुछ इसी एसओसी पर निर्भर करती हैं। एसओसी बाजार में मुख्य रूप से अमेरिकी, दक्षिण कोरियाई और ताइवानी कंपनियों का ही दबदबा है। लेकिन, हाल में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) हैदराबाद के शोधार्थियों ने वाईसिग के साथ मिलकर एक नैरोबैंड इंटरनेट ऑफ थिंग्स-सिस्टम ऑन चिप (एनबी-आईओटी-एसओसी) ‘कोआला’ विकसित किया है। उल्लेखनीय बात यह है कि यह स्वदेशी एसओसी 5जी क्षमताओं से लैस है। देश में जल्द ही इन सेवाओं की शुरुआत हो सकती है, जिसके लिए तैयारियां चल भी रही हैं।

हर्बल गुलाल ने राजस्थान की जनजातियों के जीवन में भरे रंग

जंगल के उत्पादों को जमा करने वाली जनजातियों के लिए वनधन जनजातीय स्टार्ट-अप की पहल वरदान साबित हो रही है। लघु वनोत्पाद (एमएफपी) पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) प्रणाली से इन जनजातियों को उनके उत्पादों की बिक्री में काफी सहूलियत हुई है। ये पहल ट्राइफेड द्वारा की जा रही है।

बिहार से ब्रिटेन भेजी गई जीआई प्रमाणित शाही लीची की पहली खेप

बिहार से शाही लीची की इस मौसम की पहली खेप सोमवार को हवाई मार्ग से ब्रिटेन भेजी गई। निर्यात में यह सफलता एपीडा (Agricultural and processed food products export development authority #APEDA) के प्रयासों से मिली है। यह लीची मुजफ्फरपुर के बागवानों से हासिल की गई है।

त्रिपुरा से कटहल की पहली खेप भेजी गई लंदन

उत्तर-पूर्वी क्षेत्र से कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों की निर्यात क्षमता को बढ़ाने की दिशा में बड़ी पहल करते हुए 1.2 मीट्रिक टन (एमटी) ताजे कटहल की खेप त्रिपुरा से लंदन निर्यात की गई है।

1 2