Nalanda News : शराब तस्करी का ‘रईस’ चढ़ा पुलिस के हत्थे, दीप नगर थानाध्यक्ष ने किया गिरफ्तार

दारू की तस्करी समेत कई मामलों में वांछित था शिशुपाल, जल्द ही कुछ और तस्कर हो सकते हैं सलाखों के पीछे

अविनाश पांडेय || बिहारशरीफ

दीप नगर थाना पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने नालंदा जिले के कुख्यात शराब तस्कर शिशुपाल को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी दीप नगर थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद के नेतृत्व में थाना क्षेत्र के देवीसराय इलाके से की गई है। गिरफ्तार अभियुक्त शिशुपाल थाना क्षेत्र के देवीसराय निवासी बद्री प्रसाद का पुत्र है।

इंस्पेक्टर सह दीप नगर थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद ने बताया कि शिशुपाल एक नामचीन शराब तस्कर है। वह शराब तस्करी के दो मामलों में वांछित था। इसके अलावा वह सात अन्य मामलों का भी आरोपित है। वह कई माह से फरार चल रहा था। उसकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस काफी दिनों से प्रयासरत थी। इसी क्रम में पुलिस पिछले कई दिनों से उसकी जानकारी अपने मुखबिरों से ले रही थी।

मुश्ताक अहमद, थानाध्यक्ष, दीपनगर

पुलिस का प्लान ऐसे हुआ कामयाब

शिशुपाल की गिरफ्तारी को लेकर बनाया गया पुलिस का प्लान कामयाब रहा। दीप नगर थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद ने बताया कि पुलिस को अपने मुखबिरों से सूचना मिली कि शिशुपाल देवीसराय में देखा गया है। गिरफ्तारी से पूर्व पुलिसकर्मियों ने सादे कपड़ों में पहले उसकी टोह ली। इसके बाद थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद के नेतृत्व में मौके पर पहुंची रेडिंग टीम ने शिशुपाल को गिरफ्तार कर लिया।

प्रारंभिक पूछताछ में मिली अहम जानकारी

थानाध्यक्ष मुश्ताक अहमद ने बताया कि शिशुपाल से हुई प्रारंभिक पूछताछ में पुलिस को कई अहम जानकारी हाथ लगी है। पुलिस को पता चला है कि शराब की तस्करी में और किन-किन लोगों की संलिप्तता है? पुलिस ने ऐसे लोगों की सूची तैयार की है। माना जा रहा है निकट भविष्य में शराब तस्करी के मामले में दीप नगर थाना पुलिस को बड़ी कामयाबी मिलने वाली है। हालांकि, शराब की तस्करी में कैसे-कैसे लोगों की संलिप्तता है? इसका खुलासा पुलिस ने फिलहाल नहीं किया है। बताया जाता है कि शिशुपाल की गिरफ्तारी के बाद शराब तस्करी से जुड़े धंधेबाज सहमे हुए हैं। उन्हें खौफ सताने लगा है। सही में अगर पुलिस के वायदे में दम है तो नालंदा जिले से शराब तस्करी के बड़े नेटवर्क का खुलासा होगा।

Leave a Reply