गैस एजेंसी बदलने की मिलेगी छूट, दूसरी एजेंसी से भी रसोई गैस भरवा सकेंगे उपभोक्ता

एलपीजी ग्राहकों के लिए रिफिल बुकिंग पोर्टेबिलिटी लाई केंद्र सरकार; चंडीगढ़, कोयंबटूर, गुड़गांव, पुणे और रांची से होगी योजना की शुरुआत

senani.in || डिजिटल डेस्क

रसोई गैस उपभोक्ता अब क्षेत्र में उपलब्ध कंपनी की दूसरी गैस एजेंसी से भी अपना सिलिंडर भरवा सकेंगे। इसके लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लगेगा और न ही उस गैस एजेंसी पर जाना पड़ेगा। पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी।

यह सुविधा पूरे देश में जल्द शुरू होने वाली है। फिलहाल, गुड़गांव, पुणे, रांची, चंडीगढ़ और कोयंबटूर में पायलट प्रोजेक्ट के तहत यह सुविधा शुरू होने जा रही है। यानी इंडेन, भारत या एचपी का रसोई गैस उपभोक्ता अपनी गैस एजेंसी या उसके कर्मचारियों की सेवा से संतुष्ट नहीं है तो वह क्षेत्र की उसी कंपनी की दूसरी गैस एजेंसी से अपना खाली गैस सिलिंडर भरवा सकता है।

प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो क्रेडिट : इंडियन ऑयल का ट्वीटर हैंडल

करोड़ों ग्राहक होंगे लाभान्वित

केंद्र सरकार ने एलपीजी ग्राहकों को यह तय करने की अनुमति देने का फैसला किया है कि वे जिस एजेंसी से चाहें, अपने रसोई गैस सिलिंडर को भरवा और बुक करा सकेंगे। पायलट प्रोजेक्ट के तहत प्रथम चरण में यह सुविधा गुड़गांव, पुणे, रांची, चंडीगढ़, कोयंबटूर में शुरू होने जा रही है। इससे करोड़ों ग्राहकों को लाभ होगा।

प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो क्रेडिट : इंडियन ऑयल का ट्वीटर हैंडल

ऐसे होगी बुकिंग

पंजीकृत लॉगइन का उपयोग कर या मोबाइल ऐप/ग्राहक पोर्टल के माध्यम से जब उपभोक्ता एलपीजी रिफिल की बुकिंग करेंगे तो उन्हें विभिन्न गैस एजेंसी की सूची रेटिंग के साथ दिखेगी। इस सूची में से किसी भी एजेंसी से ग्राहक अपना गैस बुक करा सकते हैं। योजना का उद्देश्य यह है कि ग्राहकों को बेहतर सुविधा मिले। साथ ही गैस एजेंसियों में भी ग्राहकों को बेहतर सेवा देने की प्रतिस्पर्धा शुरू हो। इसी से रसोई गैस एजेंसियों की रेटिंग भी निर्धारित होगी।

पाठक गण ! कृपया ध्यान दें

डिजिटल भुगतान को भी बढ़ावा

डिजिटल इंडिया मिशन को आगे बढ़ाते हुए तेल विपणन कंपनियां ग्राहकों को सहज डिजिटल सेवा उपलब्ध कराने के लिए अपनी सुविधाओं का लगातार विस्तार कर रही हैं। कोविड-19 के कारण लगाए गए प्रतिबंधों को देखते हुए संपर्क रहित लेन-देन की सुविधा को बढ़ाया गया है। इसके तहत रसोई गैस कंपनियों ने डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ग्राहकों को एलपीजी रिफिल बुक करने और भुगतान में मदद करने के लिए निम्नलिखित डिजिटल पहलों को लागू किया है-

यहां से भी सुविधा का लाभ उठा सकेंगे ग्राहक

इस डिजिटल माध्यम के अलावा, ग्राहक उमंग (यूनिफाइड मोबाइल ऐप फॉर न्यू गवर्नेंस) ऐप या भारत बिल पे सिस्टम ऐप और प्लेटफॉर्म के माध्यम से भी उपभोक्ता अपना एलपीजी सिलिंडर बुक करा सकते हैं। इसके अतिरिक्त ग्राहक ई-कॉमर्स ऐप अमेजन, पेटीएम आदि के जरिये भी गैस बुक कर उसका भुगतान कर सकते हैं।

एलपीजी कनेक्शन के ऑनलाइन ट्रांसफर की सुविधा भी उपलब्ध

इसके अलावा उसी क्षेत्र में सेवारत अन्य गैस एजेंसी को एलपीजी कनेक्शन के ऑनलाइन हस्तांतरण की सुविधा ग्राहकों को संबंधित कंपनी के वेब-पोर्टल के साथ-साथ उनके मोबाइल ऐप के माध्यम से प्रदान की गई है। इसके लिए अपने पंजीकृत लॉग इन का उपयोग कर ग्राहक अपने क्षेत्र में सेवारत वितरकों की सूची से अपनी कंपनी के वितरक और अपनी एलपीजी कनेक्शन की पोर्टिंग का विकल्प चुन सकते हैं। यदि ग्राहक चाहें तो तीन दिनों के भीतर पोर्टेबिलिटी अनुरोध को वापस भी ले सकते हैं। अन्यथा, कनेक्शन अपने आप चुनी गई गैस कंपनी को हस्तांतरित हो जाता है। यह सुविधा नि:शुल्क है। मई 2021 में कंपनियों ने 55759 गैस कनेक्शनों के पोर्टेबिलिटी अनुरोधों का समाधान किया।

Leave a Reply