अब आजीवन रहेगी शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) प्रमाणपत्र की वैधता

केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने की घोषणा, अभी टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को सात साल बाद दोबारा पास करनी पड़ती थी ये परीक्षा

senani.in || डिजिटल डेस्क

शिक्षक के रूप में कैरियर बनाने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे युवाओं के लिए खुशखबरी है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने घोषणा की है कि शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) पास करने वाले अभ्यर्थियों का प्रमाणपत्र अब आजीवन मान्य रहेगा। पहले यह परीक्षा सात साल के लिए मान्य रहती थी। इससे देशभर के करोड़ों युवा लाभान्वित होंगे और उन्हें हर सात साल में टीईटी की परीक्षा में अपनी योग्यता साबित नहीं करनी पड़ेगी।

Validity period of Teachers Eligibility Test (TET) qualifying certificate has been extended from 7 years to lifetime with retrospective effect from 2011. https://t.co/8IQD3cwRTz (1/2) https://t.co/EGi5IJ2wNu

सरकारी शिक्षक बनने के लिए जरूरी है ये प्रमाणपत्र

शिक्षक पात्रता परीक्षा (Teachers eligibility test यानी TET) सरकारी शिक्षक बनने के लिए जरूरी है। अभ्यार्थियों को इस घोषणा का लाभ वर्ष 2011 से मिलेगा। यानी जिस अभ्यर्थी ने वर्ष 2011 में या उसके बाद यह परीक्षा पास की है, उन्हें इसका लाभ मिलेगा। इससे पहले यह परीक्षा पास करने वालों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।

जिनकी अवधि खत्म हो गई, उन्हें मिलेगा नया सर्टिफिकेट

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि संबंधित राज्य सरकारें और केंद्रशासित प्रदेश उन उम्मीदवारों को फिर से वैध या नया टीईटी प्रमाणपत्र जारी करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करेंगे, जिनकी सात वर्ष की अवधि पहले ही समाप्त हो चुकी है। निशंक ने कहा कि शिक्षण के क्षेत्र में कैरियर बनाने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाने की दिशा में यह एक सकारात्मक कदम होगा।

राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद ने जारी किए थे दिशा-निर्देश

शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी टीईटी एक व्यक्ति के लिए सरकारी विद्यालय में बतौर शिक्षक नियुक्ति के लिए पात्र होने को लेकर जरूरी योग्यताओं में से एक है। राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) के दिनांक 11 फरवरी 2011 के दिशा-निर्देशों में कहा गया था कि टीईटी राज्य सरकारें आयोजित करेंगी और टीईटी प्रमाणपत्र की वैधता टीईटी उत्तीर्ण करने की तारीख से सात वर्ष होगी।

देश को मिलने वाली है एक और स्वदेशी वैक्सीन, केंद्र सरकार ने बुक कराई 30 करोड़ डोज

Leave a Reply