बिहार : कोरोना संक्रमण रोकने के लिए अब गांवों में भी होगा सैनिटाइजेशन

ग्रामीण इलाकों में सार्वजनिक स्थलों पर होगा दवा का छिड़काव

पंचायतीराज विभाग के अपर मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारियों को भेजा पत्र

ग्राम पंचायतों की देखरेख में पंचायत सचिव कराएंगे काम

अविनाश पांडेय/बिहारशरीफ

बिहार सरकार ने गांवों को कोरोना संक्रमण से मुक्त करने के लिए विशेष रणनीति बनाई है। इसके तहत ग्रामीण इलाकों में भी सार्वजनिक स्थलों को सैनिटाइज कराया जाएगा। इस संबंध में पंचायतीराज विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने सभी जिलाधिकारियों को पत्र भेजकर दिशा-निर्देश दिए हैं।

अपर मुख्य सचिव के अनुसार कोरोना वायरस के दूसरे स्ट्रेन में ग्रामीण इलाकों में भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इससे बचाव के लिए सरकार की ओर से समुचित व्यवस्था और उपाय किए जाएंगे। पत्र में उन्होंने बताया है कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव करना एक प्रभावी कदम होगा। इसलिए सरकार ने यह निर्णय लिया है कि ग्राम पंचायतों में उपलब्ध 15वें वित्त आयोग की संयुक्त अनुदान राशि से पंचायत स्तर पर सैनिटाइजेशन का कार्य व्यापक पैमाने पर कराया जाए।

अधिकारी करेंगे निगरानी

पत्र में अपर मुख्य सचिव ने सार्वजनिक स्थानों पर सैनिटाइजेशन कराने का निर्देश दिया है। इसके तहत हाट, बाजार, पंचायत सरकार भवनों, सामुदायिक भवनों, धार्मिक स्थलों, भीड़ भरे क्षेत्रों इत्यादि को चिह्नित करते हुए व्यापक पैमाने पर जल्द से जल्द सैनिटाइजेशन का कार्य शुरू किया जाएगा। ग्राम पंचायतों में सैनिटाइजेशन का कार्य ग्राम पंचायत की देखरेख में पंचायत सचिव के माध्यम से किया जाएगा। प्रखंड पंचायतीराज पदाधिकारी का यह दायित्व होगा कि वह अपने अधीनस्थ प्रखंड की ग्राम पंचायतों में सैनिटाइजेशन कार्य की व्यक्तिगत रूप से नियमित निगरानी करेंगे। साथ ही, इससे संबंधित प्रगति रिपोर्ट जिला पंचायतीराज पदाधिकारी को उपलब्ध कराएंगे।

ग्रामीणों को भी करना होगा नियमों का पालन

ग्रामीण इलाकों में भी संक्रमण की आशंका प्रबल है। इसलिए ग्रामीणों को भी अपनी ओर से सतर्क व सावधान रहने की जरूरत है। इसके लिए नियमों का पालन करना बेहद जरूरी है। खासकर मास्क व शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन करना होगा। ताकि लोग स्वयं के साथ अपने परिजनों को भी संक्रमण की आशंका से बचा सकें। राज्य सरकार, स्वास्थ्य समिति और जिला प्रशासन की ओर से बार-बार लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है। नागरिकों को बेवजह घर से बाहर न निकलने का आग्रह किया जा रहा है। ऐसे में लोगों को भी समझना होगा कि जब तक कोई आवश्यक कार्य न हो, तब तक घर से बाहर न निकलें। यदि जरूरत पड़े तो सभी कार्यों की लिस्ट बनाकर बाजार जाएं, जिससे एक बार में ही सभी कार्य हो सकें।

Leave a Reply