इस दिन करें भोलेनाथ की पूजा, कर्ज से मिलेगी मुक्ति, जीवन में आएगी समृद्धि

प्रसिद्ध ज्योतिषी आचार्य डॉ. सुधानंद झा के अनुसार भगवान शिव की पूजा सबसे आसान होती है। साथ ही वह प्रसन्न भी जल्द होते हैं। हर महीने में कुछ दिन ऐसे आते हैं, जब पूजा करने पर भगवान भोलेनाथ की कृपा जल्दी प्राप्त होती है।

सोनाली सिंह || लखनऊ

भगवान शिव को पूजने वाले व्यक्ति का उद्धार तय है। इसलिए भगवान शिव की उपासना का अलग ही महत्व है और इस उपासना के लिए प्रदोष त्रयोदशी से अच्छा कोई अवसर नहीं हो सकता।

आचार्य के अनुसार द्वादशी को पूतिका (पोई) और त्रयोदशी को बैंगन नहीं खाना चाहिए।

प्रदोष व्रत कब किया जाए

हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक माह की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि पर प्रदोष व्रत किया जाता है। इस व्रत से भगवान शिव प्रसन्न होकर मनोवांछित फल देते हैं।

प्रदोष पर पूजा की विधि

प्रदोष व्रत के दिन सुबह स्नान करने के बाद भगवान शंकर, माता पार्वती और नंदी को पंचामृत तथा गंगाजल से स्नान कराएं। इसके बाद बेल पत्र, गंध, चावल, फूल, धूप, दीप, नैवेद्य (भोग), फल, पान, सुपारी, लौंग, इलायची चढ़ाएं। पूरे दिन निराहार (संभव न हो तो एक समय फलाहार) रहें। शाम को दोबारा इसी तरह शिव परिवार की पूजा करें। भगवान शिव को घी और शक्कर मिले जौ के सत्तू का भोग लगाएं। आठ दीपक आठ दिशाओं में जलाएं। आरती करें। प्रसाद चढ़ाएं और उसी से अपना व्रत भी तोड़ें। उस दिन ब्रह्मचर्य का पालन करें।

ये उपाय करने के बाद अगले दिन
सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि कर तांबे के लोटे से सूर्यदेव को अर्घ्य दें। पानी में आकड़े का फूल जरूर मिलाएं। आकड़े के फूल भगवान शिव को विशेष प्रिय हैं। ये उपाय करने से सूर्यदेव सहित भगवान शिव की कृपा बनी रहती है और भाग्योदय भी होता है।

कर्ज मुक्ति के लिए मासिक शिवरात्रि की पूजा भी सहायक

आचार्य कहते हैं कि कर्ज मुक्ति के लिए मासिक शिवरात्रि का व्रत भी करना चाहिए। हर मासिक शिवरात्रि को सूर्यास्‍त के समय घर में बैठकर शिवजी का स्मरण करें। साथ ही नीचे दिए गए 17 मंत्र बोलें। जिनके सिर पर कर्ज ज्यादा हो, वह शिवजी के मंदिर में जाकर दीया जलाकर ये 17 मंत्र बोलें। इससे कर्ज से तो मुक्ति मिलेगी ही, आपको सुख का अनुभव भी होगा। ये 17 मंत्र निम्न हैं-

1-शिवाय नम:
2-ॐ सर्वात्मने नम:
3-ॐ त्रिनेत्राय नम:
4-ॐ हराय नम:
5-ॐ इन्द्र्मुखाय नम:
6-श्रीकंठाय नम:
7-ॐ सद्योजाताय नम:
8-ॐ वामदेवाय नम:
9-ॐ अघोरह्र्द्याय नम:
10-ॐ तत्पुरुषाय नम:
11-ॐ ईशानाय नम:
12-ॐ अनंतधर्माय नम:
13-ॐ ज्ञानभूताय नम:
14-ॐ अनंतवैराग्यसिंघाय नम:
15-ॐ प्रधानाय नम:
16-ॐ व्योमात्मने नम:
17-ॐ युक्तकेशात्मरूपाय नम:

ये उपाय भी आजमाएं

ये सारे मंत्र आपको आर्थिक परेशानी से बचाने में कारगर होंगे। हर महीने में शिवरात्रि (मासिक शिवरात्रि) कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को आती है | उस दिन जिसके घर में आर्थिक कष्ट रहते हैं, वह शाम या संध्या के समय जप-प्रार्थना करें और शिवमंदिर में दीप-दान करें। रात में जब 12 बज जाएं तो थोड़ी देर जागकर जप और एक बार श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें तो आर्थिक परेशानी और जल्दी दूर होगी। साल में एक बार महाशिवरात्रि आती है और हर महीने में एक मासिक शिवरात्रि आती है। उस दिन शाम को जब सूर्यास्त हो रहा हो, उस समय एक दीये में पांच लंबी बत्तियां अलग-अलग दिशाओं में हों, शिवलिंग के आगे जलाकर रखनी चाहिए। साथ ही भगवान शिव के नाम का जाप व प्रार्थना करना चाहिए | इससे व्यक्ति के सिर पर कर्जा होगा तो जल्दी उतरता है। साथ ही आर्थिक परेशानियां भी दूर होती हैं।

Leave a Reply