VIDEO STORY : रेमडेसिविर नहीं है रामबाण : सुनिए, रेमडेसिविर पर एम्स दिल्ली के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया के विचार

senani.in || डिजिटल डेस्क

कोरोना मरीजों के लिए रेमडेसिविर कोई रामबाण नहीं है। ऐसा कहना है दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया का। उनका कहना है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन सिर्फ उन मरीजों को दिया जाना चाहिए, जो अस्पताल में भर्ती हैं और रिपोर्ट के अनुसार जिनकी मध्यम और गंभीर स्थिति है। साथ ही जिन मरीजों का ऑक्सीजन सेचुरेशन 93 से भी कम है।

अन्य विशेषज्ञों का भी कहना है कि डब्ल्यूएचओ ने रेमडेसिविर को कोरोना के मरीजों के लिए बहुत ज्यादा उपयोगी नहीं माना है। हालांकि, अमेरिका के एक शोध में रेमडेसिविर इंजेक्शन को कोरोना के गंभीर मरीजों का ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में थोड़ा उपयोगी पाया गया है।

देखिए एम्स के डायरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया का रेमडेसिविर पर क्या है कहना?

Leave a Reply