Watch Video : घर में रखें शंख, गरीबी-दरिद्रता और बीमारियां नहीं आएंगी पास

शंख बजाने से हृदयाघात, रक्तचाप की अनियमितता, दमा और मंदाग्नि में मिलता है लाभ

senani.in

डिजिटल डेस्क

शंख का नाम लेते ही मन में पूजा और भक्ति की भावना आ जाती है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि शंख धर्म और ज्योतिष में जितना महत्वपूर्ण स्थान रखता है, अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी यह उतना ही जरूरी है। तो आइए, जमशेदपुर के प्रसिद्ध ज्योतिषी आचार्य डॉ. सुधानंद झा जी से जानते हैं शंख का धार्मिक, आध्यात्मिक, ज्योतिषीय और स्वास्थ्य के लिए महत्व।

समुद्र मंथन में निकला था शंख भी

आचार्य डॉ. सुधानंद झा जी के अनुसार शंख समुद्र मंथन में मिले 14 रत्नों में से एक है। सुख-सौभाग्य की वृद्धि के लिए इसे अपने घर में स्थापित करें।

-शंख की आकृति और पृथ्वी की संरचना समान है। नासा के अनुसार शंख बजाने से खगोलीय ऊर्जा का उत्सर्जन होता है, जो जीवाणुओं का नाश कर लोगों में ऊर्जा और शक्ति का संचार करता है।

-शंख में सौ प्रतिशत कैल्शियम होता है। इसमें रात में पानी भरकर सुबह पीने से शरीर में कैल्शियम की पूर्ति होती है। साथ ही मनोरोग में लाभ मिलता है। उत्तेजना भी कम होती है।

-शंख बजाने से योग की तीन क्रियाएं कुम्भक, रेचक और प्राणायाम एक साथ होती हैं।

-शंख बजाने से हृदयाघात, रक्तचाप की अनियमितता, दमा और मंदाग्नि में लाभ मिलता है।

-शंख बजाने से फेफड़े पुष्ट होते हैं।

-शंख की ध्वनि से दिमाग और स्नायु तंत्र सक्रिय रहता है।

शंख का धार्मिक महत्व

-दक्षिणावर्ती शंख को लक्ष्मी स्वरूप कहा जाता है। इसके बिना लक्ष्मीजी की आराधना पूरी नहीं मानी जाती।

-शंख में दूध भरकर रुद्राभिषेक करने से समस्त पापों का नाश होता है।

-घर में शंख बजाने से नकारात्मक ऊर्जा और अतृप्त आत्माओं का वास नहीं होता।

-दक्षिणावर्ती शंख से पितरों का तर्पण करने से पितरों की शांति होती है।

-शंख से स्फटिक के श्री यन्त्र का अभिषेक करने से लक्ष्मी जी की प्राप्ति होती है।

शंख का ज्योतिष में महत्व

ज्योतिषाचार्य डॉ. सुधानंद झा

-सोमवार को शंख में दूध भरकर शिव जी को चढ़ाने से चन्द्रमा के दोष ठीक होते हैं।

-मंगलवार को शंख बजाकर सुंदरकांड पढ़ने से मंगल का कुप्रभाव काम होता है।

-शंख में चावल भरकर रखें और लाल कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रखें। मां अन्नपूर्णा की कृपा बनी रहेगी।

-बुधवार को शालिग्राम जी को शंख में जल और तुलसा जी डालकर अभिषेक करने से बुध ग्रह ठीक होता है।

-शंख का केसर से तिलक कर पूजा करने से भगवान विष्णु और गुरु की कृपा मिलती है।

-शंख सफेद कपड़े में रखने से शुक्र ग्रह बलवान होता है।

-शंख में जल डालकर सूर्यदेव को अर्घ्य देने से सूर्य देव प्रसन्न होते हैं।

-शंख की पूजा करने से ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।

हमारा यूट्यूब चैनल senani news जरूर करें सब्सक्राइब

हां, आपको ये वीडियो कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें। साथ ही हमारा चैनल senani news सब्सक्राइब, लाइक और शेयर करें ताकि हम ऐसे ही जानकारीपरक वीडियो आप तक पहुंचाते रहें। आपको बता दें कि कोई भी वीडियो चैनल सब्सक्राइब करने पर पैसा नहीं देना पड़ता। चैनल सब्सक्राइब करने से जो भी नया वीडियो चैनल पर अपलोड होगा, उसका मैसेज आप तक पहुंचेगा।

Leave a Reply