कोरोना से जंग में भारत की बड़ी उपलब्धि

अब तक तीन करोड़ से अधिक लोगों का कराया गया कोरोना टेस्ट

देश में कोरोना परीक्षण प्रति 10 लाख व्यक्ति पर बढ़ रहा लगातार, अब यह 22 हजार से ऊपर पहुंचा

बदलकर अपना व्यवहार, करें कोरोना पर वार

▶️देश में अब तक कुल #test 3,09,41,264
▶️17 अगस्त को हुए कुल Test 8,99,864
▶️Testing Labs बढ़कर 1476 हुईं
▶️सरकारी Labs 971
▶️निजी Labs 505

ये भी जानें

▶️राष्ट्रीय Recovery Rate 73.18%
▶️अब तक ठीक हुए मरीज़ों की संख्या 19,77, 779
▶️देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 6,73,166

senani.in

डिजिटल डेस्क

कोविड-19 के खिलाफ जंग में भारत के नाम एक बड़ी उपलब्धि जुड़ गई है।

हमने तीन करोड़ से ज्यादा लोगों का कोविड परीक्षण कर कीर्तिमान बनाया है। पूरे देश में आसानी से परीक्षण के लिए स्‍थापित प्रयोगशाला नेटवर्क और आराम से परीक्षण की सुविधा के कारण परीक्षणों को काफी बढ़ावा मिला है।

24 घंटे में सात लाख से ज्यादा टेस्ट

पिछले 24 घंटों में देश में 7,31,697 परीक्षण किए गए। परीक्षण क्षमता प्रतिदिन 10 लाख तक बढ़ाने के संकल्‍प के साथ अभियान चलाया जा रहा हैं। इस उपलब्धि के आधार पर परीक्षण प्रति 10 लाख व्‍यक्ति (टीपीएम) तेजी से बढ़कर 21,769 हो गया है।

एक महीने में लगभग दो करोड़ लोगों की जांच

14 जुलाई तक कुल 1.2 करोड़ परीक्षण हुए थे, जो 16 अगस्‍त को बढ़कर 3.0 करोड़ हो गया। पॉजिटिव मामलों की दर इसी अवधि के दौरान 7.5 प्रतिशत से बढ़कर 8.81 प्रतिशत हो गई है। हालांकि, अधिक संख्‍या में हुए परीक्षण शुरू में पॉजिटिव मामलों की दर में वृद्धि करेंगे लेकिन शीघ्र आइसोलेशन, ट्रैकिंग और समय पर नैदानिक प्रबंधन जैसे अन्‍य उपाय के कारण इसमें कमी आएगी। दिल्‍ली के अनुभव से यह साफ हो जाता है।

मरीजों को जल्दी पहचानने में मिलेगी मदद

परीक्षण अभियान ने कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों की जल्‍दी पहचान और आइसोलेशन को बढ़ावा दिया है। इसके साथ-साथ उपचार की अच्छी व्यवस्था से मृत्‍यु दर में कमी आई है। इस प्रकार समय पर परीक्षण न केवल पॉजिटिव मामलों की दर को कम कर रहा है, बल्कि मृत्‍यु दर को भी घटा रहा है।

पहले केवल एक ही लैब में थी जांच की सुविधा

जनवरी तक सिर्फ पुणे में एक प्रयोगशाला थी, जिसमें कोरोना की जांच होती थी। अब ये प्रयोगशालाएं बढ़कर 1470 हो गई हैं। इनमें से 969 प्रयोगशालाएं सरकारी क्षेत्र में हैं और 501 निजी प्रयोगशालाएं हैं।

Leave a Reply