अनंत सफर पर अमर सिंह

राज्यसभा सदस्य अमर सिंह का दिल्ली के छतरपुर श्मशान घाट में अंतिम संस्कार, बेटियों दृष्टि और दिशा ने दी मुखाग्नि

3 अगस्त, 2020

senani.in

अमर सिंह को श्रद्धांजलि देते रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

नई दिल्ली : राज्यसभा सदस्य एवं समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह का सोमवार सुबह (तीन अगस्त) 11.30 बजे दिल्ली के छतरपुर श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार हुआ।

इस दौरान उनकी पत्नी पंकजा सिंह और करीबी रिश्तेदार मौजूद थे। कोरोना प्रोटोकॉल के कारण सीमित लोग ही इस दौरान उपस्थित हो पाए।

किडनी की बीमारी से थे पीड़ित

64 वर्षीय अमर सिंह का किडनी की बीमारी के कारण सिंगापुर के एक अस्पताल में शनिवार (1 अगस्त) को निधन हो गया था। लंबे समय से वे किडनी की बीमारी से जूझ रहे थे।

2 अगस्त को सिंगापुर से लाया गया पार्थिव शरीर

अमर सिंह का पार्थिव शरीर रविवार शाम (2 अगस्त) छह बजे विशेष विमान से दिल्ली लाया गया। वहां से छतरपुर स्थित फॉर्म हाउस में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव, अभिनेत्री एवं राजनीतिज्ञ जयाप्रदा समेत बड़ी संख्या में लोगों ने अंतिम दर्शन कर उनको श्रंद्धांजलि दी।

मुलायम सिंह बोले – मैंने अपना मित्र खो दिया

यादें शेष : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अमर सिंह के निधन पर ट्वीट की ये तस्वीर

अमर सिंह के निधन पर उनके मित्र एवं समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह ने एक पत्र जारी कर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा कि मैंने अपना एक महत्वपूर्ण शुभचिंतक और मित्र खो दिया है। वो एक कुशल राजनीतिज्ञ, रणनीतिकार एवं मिलनसार स्वभाव के व्यक्ति थे। उन्हें हमेशा अमूल्य सहयोगी और शानदार इंसान के रूप में याद रखा जाएगा।

आजमगढ़ के थे मूल निवासी

अमर सिंह के पार्थिव शरीर पर श्रद्धासुमन अर्पित करते शिवपाल यादव

अमर सिंह उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के मूल निवासी थे। उन्होंने कोलकाता में कांग्रेस के छात्र परिषद के युवा सदस्य के रूप में अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत की। वहां उनके परिवार का कारोबार था।

Leave a Reply