तीन लाख में कराया था मंदिर में मर्डर

भजमो नेता अमूल्यो कर्मकार के जमीन कारोबार में बन रहा था रोड़ा, अमूल्यो समेत तीन गिरफ्तार

senani.in

संवाददाता, जमशेदपुर

पुलिस ने बिरसानगर जोन नंबर एक निवासी अधिवक्ता सह भाजपा नेता प्रकाश यादव हत्याकांड का खुलासा 24 घंटे में कर दिया। हत्या अमूल्यो ने तीन लाख में कराई थी।

हत्याकांड में उपयोग किए गए रॉड, हमलावरों के खून लगे कपड़े बरामद कर लिए गए हैं।

पुलिस ने गौतम और राजकिशोर को छोड़ा

अधिवक्ता हत्याकांड में पुलिस ने बिरसानगर के भारतीय जनमोर्चा संयोजक अमूल्यो कर्मकार (भजमो), रविदास उर्फ छोटकू और विश्वनाथ मुंडा को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि, पकड़े गए गौतम बोस व राजकिशोर मुखी को निर्दोष होने पर थाने से ही छोड़ दिया गया।

घर से बुलाकर मंदिर ले गए फिर कर दी हत्या

वरीय पुलिस अधीक्षक एम तमिल वणन ने प्रेसवार्ता में बताया कि अमूल्यो कर्मकार के कहने पर घटना की रात 11.30 बजे अधिवक्ता प्रकाश यादव को रविदास और विश्वनाथ मुंडा घर से किसी बहाने बुलाकर मंदिर ले गए। वहां रॉड मारकर उन्हें बेहोश कर दिया। इसके बाद तेज धार हथियार से गला रेतकर अधिवक्ता को मौत के घाट उतार दिया।

बताया हत्या का ये कारण

एसएसपी ने बताया कि प्रकाश यादव अमूल्यो को हमेशा जमीन के कारोबार को नहीं करने का दबाव देते थे। इसके साथ ही रविदास और विश्वनाथ को मंदिर में घुसने नहीं देते थे। हरिजन बोलकर उन लोगों को बेइज्जत करते थे। इन कारणों से दोनों पहले से ही बदला लेना चाहते थे। वहीं, दूसरी तरफ अधिवक्ता हत्याकांड में वकीलों ने गुरुवार को कोर्ट में कामकाज को ठप रखा।

Leave a Reply