अमेरिका ने दी हांगकांग संबंधी कानून को मंजूरी

चीन के खिलाफ अमेरिका की घेराबंदी जारी, नए कानून से चीन पर और पहरा व प्रतिबंध बढ़ा सकेगा अमेरिका

senani.in

डिजिटल डेस्क

अमेरिका ने हांगकांग के मुद्दे पर चीन को एक और झटका दिया है। चीन द्वारा हांगकांग में लोगों के दमन की वजह से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को एक कानून और कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर चीनियों और उनकी संस्थाओं पर प्रतिबंध का इतंजाम कर दिया है।

नए कानून पर हस्ताक्षर करने के बाद ट्रंप ने कहा-‘मैंने एक कानून और आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं, जिसके माध्यम से हांगकांग के लोगों के खिलाफ दमन के लिए चीन को जवाबदेह ठहराया गया है।’

मिलेगा प्रतिबंध का अधिकार

ट्रंप के अनुसार उन्होंने हांगकांग ऑटोनॉमी एक्ट पर दोपहर में हस्ताक्षर किया, जो दमन के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराने के उद्देश्य से शक्तिशाली हथियार होगा। यह कानून ट्रंप प्रशासन को हांगकांग की स्वायत्तता को खत्म कर रहे विदेशी लोगों और बैंकों पर प्रतिबंध का अधिकार देगा। चीन द्वारा हांगकांग सुरक्षा कानून लागू किए जाने के दो सप्ताह बाद ट्रंप ने यह आदेश जारी किया है।

कानून में ये हैं प्रावधान

रोज गार्डन में संवाददाताओं से बातचीत में ट्रंप ने कहा-‘यह कानून मेरे प्रशासन को नए शक्तिशाली टूल्स देगा, जिससे हांगकांग की स्वतंत्रता को खत्म कर रहे लोगों और संस्थाओं को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है। हम सबने देखा है कि क्या हुआ है, यह अच्छी स्थिति नहीं है। उनकी स्वतंत्रता और अधिकार ले लिए गए हैं।’

सर्वसम्मति से हुआ था पारित

ट्रंप का कहना था कि हांगकांग के साथ मेनलैंड चाइना वाला बर्ताव नहीं किया जा सकता है। कोई स्पेशल प्रिवलेज नहीं, कोई स्पेशल आर्थिक व्यवहार नहीं और किसी संवेदनशील टेक्नॉलजी का निर्यात नहीं है। उल्लेखनीय है कि अमेरिकी कांग्रेस ने इस महीने सर्वसम्मित से हांगकांग ऑटोनॉमी एक्ट पास कर दिया था।

Leave a Reply